‘जागतिक सहानुभूति दिवस ’ के अवसर पर विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया था|परोपकार की भावना,प्रेम,दया ,करुणा जैसे भावनिक मूल्यों को विद्यार्थियों के मन में विकसित करना, यही आज का दिन मनाने का अहं उद्देश्य था|आठवीं कक्षा के द्वारा एक लघुनाट्य पेश किया गया|विद्यालय के काका तथा मौसियों के उनके कर्तव्य से परे जाकर कार्य  करने के प्रति कृतज्ञता प्रकट करते हुए विद्यालय की मुख्याध्यापिका श्रीमती मृणालिनी भोसलेजी के द्वारा उनके कार्य की प्रशंसा हेतु उनका सन्मान किया|

Secured By miniOrange